Jan 19, 2018

टीचर स्टूडेंट्स रिलेशनशिप रियली मैटर्स.




अब तक हम जितना भी पढ़े – लिखें हैं फिर चाहे वो शिक्षा हमने घर पर ली, स्कूल में, कॉलेज में या कही और भी. उसकी वैल्यू तभी पता चल पाती है  जब हम अपनी बातों को दूसरों के आगे पेश करते हैं. 

हम क्या सोचते हैं ? किसी बात का मतलब किस तरह निकालते हैं ?  कुछ पॉजिटिव देख पातें हैं या सिर्फ़ नेगेटिव बातों में पूरा दिन निकाल देते हैं ? कोई भी आब्जर्वर जो हमें देख या सुन रहा हो, फौरन पहचान सकता है की हमने कैसी शिक्षा ली है या हमें कैसी शिक्षा दी गयी है. हम सभी एक पहचान हैं, एक सिंबल हैं उस परवरिश के जो अब तक हमें मिली है. मतलब ये कि हमें जैसा पाला-पोसा गया होगा और जैसे हमें टीचर्स मिले होंगे, जैसा हमें इन्होंने बताया और समझाया होगा, लगभग वैसे ही हम दुनिया के आगे खड़े हैं. 

हम अपने घरेलु माहौल, पढाई के माहौल और और अपनी सीखने की लगन के हिसाब से बड़े हुए और अब सबके सामने हैं. याद रहे की हम वो ही बनेंगे, जो हम बनना चाहते होंगे. जब से हम पैदा हुए, सबने हमें खूब प्यार दिया, खूब दुलार दिया, खूब सारी अच्छी बातें भी बताई होंगी. सबने हमें खूब समझाया होगा की ये अच्छा है और ये बुरा. हमें जो सही लगा, हमनें ले लिया और जो नहीं लगा होगा, वो झटक दिया होगा. 

सबके साथ ये ही है सर्किल घूमता है. पर इस सर्किल में सबसे शानदार और जांबाज पर्सनालिटी होते हैं हमारे टीचर्स. इन्हें प्यार और सम्मान से हम गुरु जी भी कहते हैं. गुरु की भूमिका बड़ी अहम है हमारी जिंदगी बनाने और बिगाड़ने में. याद रखिये कि एक अच्छा गुरु वो ही बन सकता है जो पहले एक अच्छा स्टूडेंट रहा हो अन्यथा हम क्या बनेंगे ये ऊपरवाला भी नहीं बता सकता. 

एक गुरु या टीचर बनना हर किसी के बस की बात नहीं है. ये करना इतना आसान  नहीं जितना दिखाई देता है. दूर से देखने में लगता है की क्या करना है ? सिर्फ किताबी ज्ञान ही तो बांटना है. पर ऐसा नहीं है. एक बच्चा, जिसे पता नहीं क्या सीखना है ? कैसे सीखना है ? किस से सीखना है ? कहाँ सीखना है ? कब सीखना है ? क्यों सीखना है ? इन सब सवालों के जवाब सिर्फ़ और सिर्फ़ एक आदमी के पास ही हो सकतें हैं और वो है हमारे टीचर्स. अब आप समझ गए होंगे की हम कैसे बनेंगे ? ......जी हां. जैसे हमारे टीचर्स होंगे या जैसे वो हमें बनाना चाहेंगे. टीचर स्टूडेंट्स रिलेशनशिप रियली मैटर्स.

आइये देखें कुछ महान लोगों द्वारा लिखी गयी बातें जो उन्होंने टीचर्स के बारें में लिखी हैं. इन बातों को पढ़कर ही पता लगता है की वास्तव में टीचर्स, गुरु या शिक्षक हमारे जीवन के वो खुबसूरत फूल होते हैं जिनकी वजह से हम पूरी जिंदगी महक सकते हैं या बहक सकते हैं या चहक भी सकते हैं. जो जीना टीचर्स सिखा जातें हैं, वो तमाम उम्र तजुर्बे के रूप में हमारे साथ रहता है और हमारा मार्गदर्शन करता है.

रोबर्ट फ्रोस्ट- दो तरह के शिक्षक होते हैं: वो जो आपको इतना भयभीत कर देते हैं कि आप हिल ना सकें, और वो जो आपको पीछे से आपको से थोडा सा थपथपा देते हैं और आप आसमान छू लेते हैं.

अरस्तु- जन्म देने वालों से अच्छी शिक्षा देने वालों को अधिक सम्मान दिया जाना चाहिए; क्योंकि उन्होंने तो बस जन्म दिया है, पर उन्होंने जीना सीखाया है.

निकोलस स्पार्क्स- वो आपको प्रेरित करते हैं, आपका मनोरंजन करते हैं, और आप कुछ ना जानते हुए भी बहुत कुछ सीख जाते हैं.

अब्दुल कलाम- अगर किसी देश को भ्रष्टाचार – मुक्त और सुन्दर-मन वाले लोगों का देश बनाना है तो , मेरा दृढ़तापूर्वक मानना है कि समाज के तीन प्रमुख सदस्य ये कर सकते हैं. पिता, माता और गुरु.

बिल गेट्स (१)- यदि आपको लगता है कि आपका शिक्षक सख्त है तो तब तक इंतज़ार करिए जब तक आपको बॉस नहीं मिल जाता है.

बिल गेट्स (२)- टेक्नोलॉजी सिर्फ एक उपकरण है. बच्चों को एक साथ करने और प्रेरित करने के लिए, शिक्षक सबसे महत्त्वपूर्ण है.

एलेक्जेंडर महान- मैं जीने के लिए अपने पिता का ऋणी हूँ , पर अच्छे से जीने के लिए अपने गुरु का.

डैन राथर- सपने की शुरआत उस शिक्षक के साथ होती है जो आपमें यकीन करता है, जो आपको खींचता है, धक्का देता है और आपको अगले पठार तक ले जाता है, कभी-कभार  “सच” नामक तेज छड़ी से ढकेलते हुए.

लिली टॉमलिन- मैं उस अध्यापक को पसंद करता हूँ जो घर ले जाने को गृह कार्य के अलावा कुछ और सोचने को देते हैं.

मरिया मोंटेसरी- एक शिक्षक के लिए सफलता का सबसे बड़ा संकेत "यह कह पाना है कि बच्चे अब ऐसे काम कर रहे हैं जैसे कि मेरा कोई अस्तित्व ही ना रहा हो".

हेलेन केलर- अंधे व्यक्ति को किसी शिक्षक की नहीं बल्कि अपने जैसे ही किसी व्यक्ति की ज़रुरत होती है.
गिल्बर्ट के. चेस्टरटन- एक शिक्षक जो सिद्धांतवादी नहीं है वो महज़ एक ऐसा शिक्षक है जो पढ़ा नहीं रहा है.
बेरेनैस एबोट- ऐसे कई अध्यापक होते हैं जो आपको बर्वाद कर सकते हैं. इससे पहले कि आपको पता चले आप अपने इस या उस अध्यापक की धुंधली प्रति बन सकते हैं. आपको खुद अपने दम पर विकसित होना है.
डोनाल्ड नोर्मन- तो एक अच्छा शिक्षक क्या करता है ? तनाव पैदा करता है- लेकिन सही मात्र में.
मैगी गैलेघर- सभी कठिन कार्यों में , एक जो सबसे कठिन है वो है एक अच्छा शिक्षक बनना.


टिप ऑफ़ द डे : शिक्षक मतलब हम और हमारी पहचान