Mar 13, 2018

Music




म्यूजिक से सिर्फ मनोरंजन ही नहीं बल्कि हमारी सेहत पर भी अच्छा असर होता हैं.
म्यूजिक सुनने के कुछ ऐसे फायदे भी हैं जो हम भागादौड़ी के चलते मिस करते रह जाते हैं.  
आइए, म्यूजिक सुनना कितना फायदेमंद हैं, ये जाने.

1.  म्यूजिक सुनने से उत्साह बढ़ता हैं.

2.  म्यूजिक सुनने से हमारा धैर्य बढ़ता हैं बशर्ते हम अपनी पसंद का म्यूजिक सुनते हों.

3.  म्यूजिक सुनने से पुरानी यादें जिंदा हो जाती हैं और हमारे बिताए कुछ अच्छे पल रिवाइंड हो उठते हैं. इससे मन मुस्कुरा उठता है और हम लाइफ के लिए फ़िर से पॉजिटिव हो जाते हैं.

4.  म्यूजिक सुनने से मूड़ अच्छा बन सकता हैं.

5.  पढ़ते वक्त स्लो और साइलेंट म्यूजिक सुनने से सोचने और समझने की क्षमता बढ़ती हैं. IQ तेज होने लगता हैं. अब तो Youtube भी है. यहां आप अच्छे से अच्छा म्यूजिक चुन सकते हैं.

6.  म्यूजिक सुनने से बेचैनी और तनाव दूर भाग जाता है. आप ख़ुद के साथ पल बिताते हैं. ख़ुद को जी पाते हैं.

7.  म्यूजिक सुनने से गुस्सा कम होने लगता है.

8.  म्यूजिक सुनने से नींद भी अच्छी और गहरी हो जाती है.

9.  स्लो मोशन म्यूजिक से बढ़ी हुई हार्ट-बीट्स कंट्रोल में रहती है.

10. एक अच्छा म्यूजिक आपके कंधे, पेट व पीठ के तनाव को भी काफ़ी हद तक ठीक रख सकता है.

11. म्यूजिक आपके ब्लड-प्रेशर और दिमाग को बैलेंस करने में भी सहायता करता है.

12. म्यूजिक सुनने से हमारी मैमोरी पर अच्छा असर पड़ता है. भूलने की बीमारी दूर हो सकती है.

13. यदि किसी बच्चे की सर्जरी करनी पड़े तो उसे म्यूजिक सुनाना चाहिए, इससे बच्चे का ड़र खत्म हो जाता है.

14. म्यूजिक सुनते हुए एक्सरसाइज करने से हमारे अंदर रेजिस्टेंस पॉवर बढ़ जाती है.

15.जो लोग रोज म्यूजिक सुनते हैं, उनकी सोच आम सोच से ज्यादा पॉजिटिव हो जाती है और वो ख़ुश रहना सीख जाते हैं.


16. जो महिलाए प्रेगनेंसी के दौरान म्यूज़िक सुनती हैं, उन्हे लेबर-पेन कम हो जाता है.

17. रिसर्च के अनुसार, जो स्टूडेंट्स म्यूजिक की क्लास अटेंड करते हैं, हैं, वे एकेडमिक में भी अच्छे रिजल्ट्स देते हैं.

18. म्यूज़िक सुनने वाले बुजुर्ग ज़्यादा बेहतर सोच पाते हैं और नयी पीढ़ी के साथ उनको तालमेल करने में आसानी हो जाती है. वो मुद्दों को डिस्कस करने में संकोच करना छोड़ सकते हैं. जिससे परिवार में तालमेल बेहतर हो जाता है. प्यार बढ़ता है. एक दूसरे की पसंद-नापसंद को स्वीकार करना आसान हो सकता है.

19. विदेशों में तो म्यूजिक- थेरेपी अब एक आम बात हो गयी है. उदाहरण के लिए- आपरेशन थियेटर में सर्जरी के दौरान म्यूजिक का प्रयोग.

20. अच्छा म्यूजिक सुनना आपकी थकान को मिटा देता है. आप रिफ्रेश महसूस करते हैं.

21. म्यूजिक आपको शांत रखता है. और तो और पेट में एसिडिटी बनने से भी रोकता है.

तो आप भी अपने मोबाइल पर एक अच्छा म्यूजिक प्लेयर एप्प खुद के लिए सेलेक्ट करें.  और रोजाना करीब 30 मिनट्स ख़ुद के लिए निकाले. फ़िर देखिये कमाल. आप ख़ुद भी खुश रहेंगे और आस-पास का माहौल भी ख़ुशनुमा हो उठेगा.

यकीन ना आये तो जरा गुनगुनाइए....पुरानी जींस और गिटार ....मोहल्ले की वो छत और मेरे य़ार. या हवन कुंड मस्तों का झुंड.....और फ़िर बादशाह का कोई लेटेस्ट पंजाबी तड़का सोंग और इंजिनियर हैं तो बैकस्ट्रीट बॉयज. 
मुस्कुराते रहिए. गुनगुनाते रहिए. जीवन के गीत गाते रहिए.
मेरा म्यूजिक. मेरी लाइफ.