Jan 16, 2019

बस तुम्हारा तारकोल जमना नहीं चाहिए.






हम सभी एक उबड़-खाबड़ सड़क पर पैदा होते हैं

ख़ुशी और सफ़लता के लिए तलाशते रहते हैं कोई साफ़ सड़क

खुशी के लिए जीने से बहुत कुछ तो नहीं आता

लेकिन

असंख्य कमजोर इच्छाओं की तुलना में एक छोटी ख़ुशी दुनिया बदल देती है

अस्थायी हार विफलता की गारंटी नहीं है

एक तुच्छ जीत स्थायी सफलता का ट्रेडमार्क नहीं है

हारने या जीतने का सवाल आपके लिए बहुत छोटा है

किसी को नोचे बगैर और नीचे गिराए बगैर

गिर-पड़ के भी तुमने ख़ुद को हल्का सा जान लेने का जोख़िम लिया है

तो ये एक बड़ी सफ़लता है

तुम्हारी सड़क लंबी ना भी हो तो क्या हुआ  

लेकिन

इसे साफ़-सुथरी तुम कभी भी बना सकते हो

बस तुम्हारा तारकोल जमना नहीं चाहिए.

17 January 2019
8.15 AM

No comments: