Apr 24, 2019

मार्क ज़ुकरबर्ग - पूरा नाम Mark Elliot Zuckerberg.






क्या हैं?  
एक अमेरिकी कंप्यूटर प्रोग्रामर और इंटरनेट बिजनेसमैन. फेसबुक के CEO, मुख्य कार्यकारी तथा साथ ही फेसबुक के सह-संस्थापक भी.


मार्क ज़ुकरबर्ग

पूरा नाम Mark Elliot Zuckerberg.



क्या किया?
इंटरनेट की दुनिया में फेसबुक को लाकर उन्होंने सोशल मीडिया क्रांति को बहुत आगे ले गए.

जन्म -  14 मई, 1984 White Plains, New York

पिता एडवर्ड ज़ुकरबर्ग, एक डेंटल सर्जन 
और 
माँ करेन केम्प्नेर, एक साइकोलोजिस्ट



कहानी कहाँ से शुरू हुई?
मार्क ने कंप्यूटर पर सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग सबसे पहले अपने पिता से सीखी. वह सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट को लेकर इतने क्रेज़ी थे कि छोटी उम्र में ही ZuckNet नामक सॉफ्टवेयर बनाया था, जिसका इस्तेमाल उनके पिता के डेंटल हॉस्पिटल और उनके घर में किया जाता था. 


Zuckerberg और उनके 3 फ्रेंड्स Andrew McCollum, Chris Hughes and Dustin Moskovitz ने 28 अक्टूबर, 2003 में FaceMash नाम से एक वेबसाइट भी डिजाईन की, जिसके ऑनलाइन सॉफ्टवेयर के द्वारा यूजर एक छात्र से दूसरे छात्र के फोटो के लिए “हॉट” या “नॉट” रेटिंग कर सकते थे.


स्कूल के दौरान Zuckerberg ने एक म्यूजिक प्लेयर भी बनाया था जिसका नाम था Synapse Media Player.




सोशल नेटवर्क वेबसाइट का आईडिया कहाँ से आया?
दिव्य नरेन्द्र से. 

दिव्य नरेन्द्र एक अमेरिकी कारोबारी हैं, जिन्होंने अपने शिक्षा के समय Harvard University में मार्क को एक सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट बनाने की सलाह दी थी. इसका नाम Harvard Connection रखा गया पर बाद में मार्क को अपना सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट बनाने का विचार आया जिसका डोमेन नाम उन्होंने thefacebook.com लिया था, जो आज फेसबुक के नाम से मशहूर है.


फेसबुक की शुरुआत4 फरवरी, 2004 में हुई. Harvard University में पढाई करने के दौरान मार्क ने अपने यूनिवर्सिटी के हॉस्टल कमरे में रहने वाले मित्रों के साथ इसे लांच किया.


फेसबुक को उस समय स्कूल के छात्रों के लिए ही बनाया गया था. उसको कुछ इस तरीके से बनाया गया था जिससे कि छात्र अपने गुणों जैसे अपने कक्षा, अपने फ्रेंड्स तथा कांटेक्ट नंबर के बारे में अपडेट ले सकते थे. कुछ ही दिनों में मार्क ने फेसबुक को अन्य स्कूली छात्रों तक पहुँचाने का सोचा और कोलंबिया, न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी जैसी बड़ी संस्थाओं के साथ जुड़े.



फेसबुक की मदद से मार्क 23 साल की उम्र में ही करोड़पति बन गए. आज फेसबुक इंटरनेट पर सबसे ज्यादा पोपुलर सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म है. इसके पीछे मार्क की सोच, काबिलियत और विज़न, इन तीनों का बड़ा योगदान है.


जितना भी हो सके, मार्क सीखने के लिए हमेशा रेडी मिलते हैं और सफ़लता के बाद भी 14 से 16 घंटे रोज काम करते हैं.


मार्क  ने अपनी कंपनी के मुख्यालय में एक प्रश्न उत्तर सत्र में लोगों का जवाब देते हुआ कहा था कि फेसबुक से लोगों का समय बर्बाद नहीं होता क्योंकि इससे लोग अपनों से और अपने समाज से जुड़े रहते हैं.


मार्क ने इतने कम समय में सफलता प्राप्त की, यह कोई जादू नहीं है. ये उनकी कड़ी मेहनत का फल है. उन्होंने अपने पैशन को अपना करियर बनाया और आगे बढ़ते चले गए.


उन्होंने कभी भी हार नहीं मानी. मुश्किलें आई, मार्क ने फाइट जारी रखी. और आज हम देख रहें हैं कि उनके इस सफ़र ने कितने ही लोगों को जोड़ दिया.

फिजिक्स, मैथ और खगोल विज्ञान में उनकी अच्छी पकड़ रही. वो लैटिन, फ्रेंचहिब्रू और प्राचीन यूनानी भाषा आसानी से बोल और लिख सकते हैं.


मार्क का मानना है कि सफलता की एक ही गारंटी हैं, वो है लाइफ में रिस्क लेना.




चलते-चलते :
मार्क  ने 19 मई 2012 को अपनी गर्लफ्रेंड Priscilla Chan से शादी की और उनकी दो बेटियाँ हैं.


इमेज एंड इनफार्मेशन स्त्रोत: इन्टरनेट/गूगल 


No comments: