May 11, 2019

मुझे अच्छा लगता है.






मुझे अच्छा लगता है

तेरी चाय बनाती उँगलियों से चीनी के छोटे-छोटे दाने उठाना,

थकने के बाद भी मेरे पिता के लिए गर्म रोटी बनाना,

मेरी जा चुकी माँ के लिए भी तेरी आँखों में आंसुओं का आना,

मेरी जिद के आगे कोई वजह रखे बगैर यूँ ही हार जाना,

मुझे अच्छा लगता है.



मुझे अच्छा लगता है

मेरी कमियों के बावजूद भी मुझे स्वीकारते रहने का रिस्क उठाना,

मेरे कुछ भी कहने से पहले ही आँखों ही आँखों में सब समझ जाना,

सुबह की इतनी जल्दी में भी दोपहर के खाने का टिफ़िन बनाना,

शाम को घर पहुँचने से पहले ही कूलर में पानी भर कर स्विच दबाना,

मुझे अच्छा लगता है.



मुझे अच्छा लगता है.

सही बात के लिए बहस करे बिना कोई टॉपिक मुझे पूरा समझाना,

हमेशा मेरा साथ दोगे ना, ये कहकर हौले-हौले अपनी पलकें झुकाना,

आटा ना भी हो घर में और तेज भूख लगने पर चुपके से थोड़े चावल पकाना,

सब समझता हूँ मैं और इसीलिए सरप्राइज देते हुए तुम्हारा भी मान बढ़ाना,

मुझे अच्छा लगता है.



12.50 PM
11 मई 2019
Image Source: Google

(जो दिल कहे, कभी तो सामने आता ही है. थैंक यू डॉ ऍम. 
तुम खड़े रहे और लाइफ़ थामे रही. )










No comments: