May 2, 2019

प्रकृति का डीजे बजता है और तूफ़ान नाचने लगता है.





जब-जब
नमी से भरी हुई ढेर सारी,
गर्म हवा तेज़ी से ऊपर की
ओर उठती है,
तब तूफ़ान आते हैं.

हवा तेज़ हो जाती है,
बादल बड़े और गहरे,
आसमान में अँधेरा छाने लगता है.

बादलों के अंदर पानी के कण,
तेज़ी से रोटेट करते हैं
और
आपस में टकराते हैं.

फ़िर बिजली पैदा होती है
और
बड़ी-सी चिंगारी बन कर
धरती पर ज़ोरदार एंट्री के साथ,
अपना इंट्रोडक्शन देती है.

पहले चमक और 
बाद में गड़गड़ाहट.

लाइट की स्पीड
साउंड की स्पीड से 
ज्यादा जो होती है.

प्रोसेस को पूरा करने के लिए
अंत में
प्रकृति का डीजे बजता है
और
तूफ़ान नाचने लगता है.


फैनी आ रहा है.
लेटेस्ट लाइट
और
साउंड सिस्टम के साथ.


एनवायरनमेंट से खिलवाड़
का जवाब हमें ही देना है
और हम में से ही कितनों की ही
घर वापसी का ये अनोखा त्यौहार है.

अपना ख़याल रखना.

इमेज सोर्स: गूगल



No comments: