Jun 15, 2019

हे ऑक्सीजन - वी लव यू.






लाइफ़ के लिए सबसे ज़रूरी एलिमेंट कौन सा है?
जी हाँ, सबसे ज़रूरी,
आपके प्यार से भी ज्यादा ज़रूरी.


आपको पता होना ही चाहिए.
इसे O-2 कहते हैं यानि के ऑक्सीजन.


अगर आपके पास ये है,
बस केवल तब ही
आप ब्रेथ के बाद की
टेम्पररी चीज़ों जैसे
थॉट्स, टैलेंट, किस्मत, करियर,
फॅमिली, समाज, देश,
दुनिया, गुड-बैड आदि के बारें में सोच सकते हैं
या
बातें बना सकते हैं.


हवा में छुपकर भी आपकी मदद करने वाली
ऑक्सीजन की नॉन-स्टॉप सप्लाई के कारण ही
आप बड़ी आसानी से 
टाइम पास कर सकते हैं,
लेक्चर झाड़ सकते हैं,
किसी को टार्चर कर सकते हैं,
या ख़ुद को कुछ भी समझ सकते हैं 
वरना 
बिना इसके आपको कौन पूछने वाला है?


आपको पता होना ही चाहिए कि 
मुर्दे बोला नहीं करते
क्योंकि
“दे डोंट हैव ऑक्सीजन फ्लो इन दी बॉडी एनी मोर”.


दिल पर हाथ रख कर बताइए कि 
क्या ये एकमात्र सच नहीं है?
और 
अगर हाइड्रोजन के साथ 
इसका लव अफेयर ना हो तो
पानी बनना भी नामुमकिन है.


आप तो जानते हैं ही,
साइंटिस्ट भी रिसर्च करके मान ही जाते हैं कि 
आपकी लगभग 90% एनर्जी 
ऑक्सीजन से ही आ रही है,
फ़ूड और पानी से केवल 10% एनर्जी मिलती है.


हवा में ऑक्सीजन लगभग 21% रहती है
और ये एक वरदान है. असली गिफ्ट. 
इक्वल गिफ्ट बाय नेचर.


आज से 30 करोड़ साल पहले हवा में 
35% ऑक्सीजन हुआ करती थी
और 
तभी शायद उस ज़माने के कीड़े भी 
बड़े साइज़ के होते थे.

आदमियों के कद भी तभी इतने बड़े रहे होंगे?


खैर,
आप एक दिन में लगभग 23,000 बार सांस लेते हैं
और 
इस बात से आराम से समझ सकते हैं 
कि
ऑक्सीजन की हमें कितनी पूजा करनी चाहिए और क्यों?


सवाल ये नहीं है कि इस समय आप क्या हैं,
आपके पास कितना था, है या आगे कितना होगा.


मस्त सवाल ये है कि आपके
स्वस्थ और ठीक-ठाक रह जी सकने की 
असली वजह क्या है?


और उस वजह को आपने अब तक 
कितनी वेटेज दी है?

एक्चुअली
लाइफ़ इज ऑक्सीजन.
एंड हाय टू हाइड्रोजन.
बोथ केयर्स एज ए टीम.
नेचुरल ब्रेथ एंड वाटर मैनेजमेंट यूनिवर्सल सिस्टम.

थैंक यू नेचर.

तुम्हारी वजह से ही 

सब लोग 

कैसे "हवा में बातें" कर लेते हैं,

ये आज ही पता चला.




इमेज सोर्स: गूगल




No comments: