Feb 23, 2018

व्यवहार




एक बार एक राजा शिकार के उद्देश्य से अपने काफिले के साथ किसी जंगल से गुजर रहा था. दूर-दूर तक शिकार नजर नहीं आ रहा था. वे धीरे-धीरे घनघोर जंगल में प्रवेश करते गए. अभी कुछ ही दूर गए थे की उन्हें कुछ डाकुओं के छिपने की जगह दिखाई दी. 

जैसे ही वे उसके पास पहुचें कि पास के पेड़ पर बैठा तोता बोल पड़ा – ”पकड़ो-पकड़ो एक राजा आ रहा है इसके पास बहुत सारा सामान है लूटो-लूटो जल्दी आओ, जल्दी आओ.

तोते की आवाज सुनकर सभी डाकू राजा की और दौड़ पड़े. डाकुओ को अपनी और आते देख कर राजा और उसके सैनिक दौड़ कर भाग खड़े हुए. भागते-भागते कोसो दूर निकल गए. 

सामने एक बड़ा सा पेड़ दिखाई दिया. कुछ देर सुस्ताने के लिए उस पेड़ के पास चले गए. जैसे ही पेड़ के पास पहुचे कि उस पेड़ पर बैठा तोता बोल पड़ा – “आओ राजन हमारे साधु की कुटिया में आपका स्वागत है. अन्दर आइये. पानी पीजिए और विश्राम कर लीजिये." 

तोते की इस बात को सुनकर राजा हैरत में पड़ गया और सोचने लगा कि एक ही जाति के दो प्राणियों का व्यवहार इतना अलग-अलग कैसे हो सकता है? 

राजा को कुछ समझ नहीं आ रहा था. वह तोते की बात मानकर अन्दर साधु की कुटिया की ओर चला गया. साधु को प्रणाम कर उनके समीप बैठ गया और अपनी सारी कहानी सुनाई और फिर धीरे से पूछा, “ऋषिवर इन दोनों तोतों के व्यवहार में आखिर इतना अंतर क्यों है?

साधु ने धैर्य से सारी बातें सुनी और बोले, ये कुछ नहीं राजन, बस संगति का असर है. डाकुओं के साथ रहकर तोता भी डाकुओं की तरह व्यवहार करने लगा है और उनकी ही भाषा बोलने लगा है.

अर्थात: जो जिस वातावरण में रहता है वह वैसा ही बन जाता है. कहने का तात्पर्य यह है कि मूर्ख भी विद्वानों के साथ रहकर विद्वान बन जाता है और अगर विद्वान भी मूर्खों के संगत में रहता है तो उसके अन्दर भी मूर्खता आ जाती है. इसलिए हमें संगति सोच समझ कर ही करनी चाहिए.

Feb 22, 2018

TOP 10 Search






   

टॉप 10 सर्च ओवरआल
1   Bahubali 2
2   Indian Premier League
3   Live Cricket Score
4   Dangal
5   Half Girlfriend
6   Badrinath Ki Dulhania
7   Munna Michel
8   Jagga Jasoos
9   Champions Trophy
10  Raees

टॉप 10 सर्च एंटरटेनर
1   Sunny Leone
2   Arshi Khan
3   Sapna Choudhary
4   Vidya Vox
5   Disha Patani
6   Sunil Grover
7   Shilpa Shinde
8   Bandagi Kalra
9   Sagarika Ghatge
10  Rana Daggubati
टॉप 10 सर्च विद “What is’
1   What is GST
2   What is bitcoin
3   What is jallikattu
4   What is a BS3 vehicle
5   What is peta
6   What is Jio Prime
7   What is Cassini
8   What is a fidget spinner
9   What is a lunar eclipse
10  What is ransomware
टॉप 10 सर्च न्यूज़
1   Indian Premier League
2   ICC Champions Trophy
3   CBSE results
4   UP election results
5   Goods and Services Tax
6   Wimbledon
7   Miss World Ceremony
8   Bitcoin price
9   Union budget
10  US Open

टॉप 10 सर्च मूवीज
1   Bahubali 2
2   Dangal
3   Half Girlfriend
4   Badrinath Ki Dulhania
5   Munna Michael
6   Jagga Jasoos
7   Raees
8   Fast and Furious
9   Raabta
10  Ok Jaanu

टॉप 10 सर्च Songs
1   Hawa Hawa
2   Mere Rashke Qamar
3   Despacito
4   Dil Diyan Gallan
5   Raabta
6   Ding Dang
7   Kabil
8   Shape of You
9   Mubarakan
10  Mile Ho Tum Humko
टॉप 10 सर्च “Near Me”
1   Post office near me
2   Movie timings near me
3   Coffee shops near me
4   Courier service near me
5   Things to do near me
6   Hardware store near me
7   Electronics store near me
8   Grocery store near me
9   ATM near me
10  Pharmacy near me
टॉप 10 सर्च विद “How to”
1   How to link aadhaar with PAN card
2   How to book Jio phone
3   How to buy bitcoin in India
4   How to take a screenshot
5   How to remove holi color from face
6   How to file GST returns
7   How to invest in mutual funds
8   How to mine bitcoin
9   How to vote for Bigg Boss 11
10  How to buy ethereum in india
टॉप 10 सर्च Sports
1   Indian Premier League
2   ICC Champions Trophy
3   Wimbledon
4   WWE Wrestlemania
5   Pro Kabaddi
6   US Open
7   FIFA World Cup
8   Royal Rumble
9   ICC Women's World Cup
10  Indian Super League
टॉप 10 Global सर्च
1   Hurricane Irma
2   iPhone 8
3   iPhone X
4   Matt Lauer
5   Meghan Markle
6   13 Reasons Why
7   Tom Petty
8   Fidget Spinner
9   Chester Bennington
10  India National Cricket Team


Nick



कहते हैं पहला सुख निरोगी काया.

और अगर ये ना हो तो कोई क्या करेगा? सचमुच टफ है इस सवाल का जवाब.

लेकिन Nick Vujicic. हद कर दी इस आदमी ने. कभी Suicide करने का सोचने वाले Nick साहब आज लाखों लोगों के Role मॉडल बन चुकें हैं.

कौन हैं Nick Vujicic? आइये जानने की कोशिश करते हैं.

1.Nick का जन्म ऑस्ट्रेलिया की मेलबर्न सिटी में हुआ.

2. Nick जन्म से ही विकलांग हैं. उनके दोनों हाथ और दोनों पांव नहीं हैं.

3. Doctors’ उनको देख कर हैरान रह गए थे और उनके पास Nick के पेरेंट्स को बताने के लिए कुछ भी नहीं था. मेडिकल साइंस के लिए भी Nick एक अजूबे की तरह थे.

4. वर्षों की ख़ोज के बाद पता चल पाया की Nick टेट्रा-एमेलिया सिंड्रोम नाम की जन्मजात बीमारी के शिकार हैं.

5. ऐसे हालातों में उनके और फैमिली के लिए सब कुछ मैनेज करना बेहद मुश्किल रहा. हालांकि बाएं कूल्हे के नीचे छोटे से पांव के होने से Nick को संतुलन बिठाने में थोड़ी मदद जरुर मिलती है लेकिन फ़िर भी वो सब काम कैसे करते होंगे? ये तो शायद स्वस्थ आदमी भी तरीके से ना बता पाए.

6. जीवन में तमाम मुश्किलें थी. और 10 साल की उम्र आते आते Nick हार मान चुके थे. और वो Depression की गिरफ़्त में डूब गए थे. जिस स्कूल में वो पढ़ते थे, वहां के साथी उनका मजाक उड़ाते थे. और एक समय ऐसा भी आया की Nick को लगा कि Sucide कर लेना चाहिए. लेकिन किसी तरह से उन्होंने ख़ुद को रोक लिया.

7. समय का चक्र घूमता रहा. Nick 17 साल के हो गए. एक दिन स्कूल के सफ़ाई केयर टेकर ने बातों-बातों में Nick से कहा –“ तुम्हारे अंदर अच्छा Public Speaker बनने के गुण हैं और तुम्हें अपनी कहानी दुनिया को बतानी चाहिए. क्यों नहीं तुम इसे Try करते? क्या पता तुम अपने साथ-साथ किसी और के चेहरे पर भी मुस्कान बिखेर सको?”

8. Nick को उनकी इस सलाह से प्रेरणा मिली और उन्होंने Life को पॉजिटिव तरीके से देखने की कोशिशें शुरू कर दी.

9. कुछ दिनों की मेहनत से Nick अब बदलने लगे. उन्होंने अपना लक्ष्य तय कर लिया था. वो अब जीना चाहते थे. ख़ुद के दम पर. ख़ुद के लिए. दूसरों के लिए.

10. आज Nick एक बेबस आदमी से एक Famous Personality और Motivational स्पीकर में बदल चुके हैं. 60 से भी ज्यादा देशों में उनके अब तक हजारों Seminars हो चुके हैं.

11. वो शानदार स्विमिंग करते हैं. पानी की सतह पर सर्फिंग करते हैं और स्काई डाइविंग करने का रोमांच भी उठाते हैं.

12. उन्होंने अपने Experiences शेयर करते हुए एक बुक भी लिखी है. जो बेस्टसेलर बनी.

13. वर्तमान में Nick अपनी पत्नी और बच्चों के साथ लॉस एंजलिस में रहते हैं.

14. Nick की दो कंपनियां हैं. “लाइफ विदाउट लिंब्स और एटीट्यूट इज एटीट्यूड”. ये कंपनियां दुनिया भर में विकलांग लोगों के बीच उम्मीद और भरोसा जगाने की दिशा में काम करती है.

15. दुनिया भर के स्वस्थ और विकलांग दोनों तरह के लोगों के लिए Nick एक उम्मीद के सूरज हैं और जो हार कर बैठ गए है उनके लिए बिना हाथ-पैर वाले सिकंदर हैं.

16. Nick का मानना है कि विकलांग लोगों को व्हील चेयर देने या उनके लिए कोई स्कीम चला देने से बदलाव नहीं आएगा. उन्हें भरोसा देने की जरूरत है कि आप भी कुछ कर सकते हैं. वो लोगों से अपील करते हैं कि कभी नाकामी से डरना नहीं चाहिए, किसी बात के लिए शर्म भी नहीं करनी चाहिए. कोशिश करते रहना चाहिए और अपने डर को ही डरा के भगा देना चाहिए. फ़िर तक़दीर ख़ुद ब ख़ुद करवटें ले लेगी.


Feb 21, 2018

Happiness





खुश रहना और हैरान होना मनुष्य की जन्मजात नेचर है. एक छोटा बच्चा अक्सर खुश और हैरान क्यों रहता है? क्योंकि इन बेसिक, V r born with इनबिल्ट Happiness एंड Surprises. 

पर जैसे-जैसे बड़े होते हैं तो हमें Environment और Society के चेहरे देख कर लगता है कि जो सीरियस हैं, वो ही समझदार माने जायेंगे और हम क्या करते हैं? समझदार होना शुरू कर देते हैं. अब जो समझदार हो गया, जिसे दुनियादारी की ABCD आ गयी, वो हंसेगा किस बात पर? दुनिया में तो तनाव ही तनाव है. एक दुसरे की टांग खिचाई है. 

तो होता क्या है? Impurity आना start हो गया. अपना-पराया, तेरा-मेरा, आगे निकलने की मैराथन, दूसरों के दुःख में सुख आने का स्वाद और Critism में Satisfaction का तो मज़ा ही सबसे निराला. असर क्या हुआ? हर बात के मायने फायदे-नुकसान के तराजू में तुलने शुरू. 

नतीज़ा? आप और समझदार हो गए और Happiness का स्टेट ऑफ़ माइंड, Sadness की स्टेट ऑफ़ लिविंग में बदल गया.

अब आप किसी छोटे बच्चे को दोबारा करीब से देखो. 
आपने लाख कमा लिए होंगे पर उस के आगे गरीब से ही लग रहे हो. पैसा आ गया. शोहरत मिल गयी. सोशल – सर्किल माशा अल्ला. पर आप खो गए. उसके पल्ले कुछ नहीं. फ़िर भी वो अमीर दिख रहा है. नेचुरल प्रतीत होता है. हैरानी से आपको देख रहा है. उसे नहीं पता कि उसके सामने कोई समझदार खड़ा है जो उम्र में उससे काफ़ी बड़ा है. और अब आप सोच रहे हो कि मेरे समझदार हो जाने से क्या मकसद हल हुआ? आज हुआ या कल हुआ? बच्चे के सामने एक समझदार Body खड़ी है. आप ख़ुद तो नहीं हो वहां.


और तभी लोग बचपन में वापिस लौटना चाहते हैं. क्यों? क्योंकि वहां Purity है. ख़ुशी है. हैरानी है. आप हो. कैसे भी सही. पर आप ही हो वहां. 

तो जब 70 साल बाद भी वो ही तलाश करना पड़े जो 7 साल की उम्र में ही आपके पास था, फ़िर 63 साल क्या किया??  

तो अब?
अब क्या...
अपनी ख़ुश रहने की Natural State को बचाएँ और धमाल मचाएं.

बाकी आप ख़ुद ही समझदार हैं. आपको सबकुछ पहले से ही पता है. इनबिल्ट है. Try कर के देखिये. और कोशिशें कामयाब होती हैं.

आप कब हैरान हो रहे हैं? 

समझदार होने के बाद Last Time कब हैरान हुए थे? 


जाते-जाते

एक बार मुल्ला नसीरूद्दीन ने एक आदमी से कुछ उधार लिया था. मुल्ला समय पर उधार चुका नहीं पाया तो उस आदमी ने इसकी शिकायत बादशाह से कर दी. बादशाह ने मुल्ला को दरबार में बुलाने का आदेश दिया.

मुल्ला बेफिक्री के साथ दरबार पहुंचा. मुल्ला के दरबार पहुंचते ही वह आदमी बोला - बादशाह सलामत, मुल्ला ने बहुत महीने पहले मुझसे 500 दीनार बतौर कर्ज लिए थे और अब तक नहीं लौटाए. मेरी आपसे दरख्वास्त है कि बिना किसी देरी के मुझे मेरा उधार वापस दिलाया जाए.

यह सुनने के बाद मुल्ला ने जवाब में कहा - हुजूर, मैंने इनसे पैसे लिए थे मैं यह बात मानता हूं और मैं उधार चुकाने का इरादा भी रखता हूं. अगर जरूरत पड़ी तो मैं अपनी गाय और घोड़ा दोनों बेचकर भी इनका उधार चुकाऊंगा.

तभी वह आदमी बोला - यह झूठ कहता है हुजूर इसके पास न तो कोई गाय है और न ही कोई घोड़ा. अरे इसके पास ना तो खाने को है और न ही एक फूटी कौड़ी है.

इतना सुनते ही मुल्ला नसीरूद्दीन बोला - जहांपनाह! जब यह जानता है कि मेरी हालत इतनी खराब है, तो मैं ऐसे में जल्दी इसका उधार कैसे चुका सकता हूं? जब मेरे पास खाने को ही नहीं है तो मैं उधार दूंगा कहां से?


बादशाह ने यह सुना तो ख़ूब हैरान हुए, फ़िर जोर से हंसे और मामला रफा-दफा कर दिया. अपनी हाजिर जवाबी से मुल्ला नसीरूद्दीन एक बार फिर बच निकलने में कामयाब हो गया.